Cricket Lovers Ke Liye Ayi Achi Khabar July 2020 Se Live Dekhna Match

सारा विश्व कोरोना वायरस के प्रकोप से प्रभावित है और 15 मार्च, 2020 से सभी ऐसी गतिविधियों पर रोक लग गयी थी जहा ज्यादा लोगो का जमावड़ा लगता हो और अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट भी उन्ही में से एक था! लेकिन क्रिकेट के फैंस के लिए अब एक सुखद खबर सामने आ रही है की वेस्ट इंडीज की टीम तीन मैचों की टेस्ट सीरीज़ के लिए मैनचेस्टर इंग्लैंड पहुंच गयी है! यह खबर बिलकुल वैसी है जैसे सूखे से ग्रसित गाओ में जैसे पानी मिल गया हो! क्रिकेट मैच पर बैन लगे अब लगभग ढाई महीने हो चुके है और ढाई महीने बाद लोग लाइव मैच का आंनद उठा पाएंगे, भले ही वो मैच भारत का ना हो!

 

वेस्ट इंडीज क्रिकेट के ट्विटर अकाउंट पर एक ऐसी ही फोटो साझा की गयी जिसमे वेस्ट इंडीज की टीम एयरपोर्ट पर नजर आ रही है! जो लोग अभी तक क्रिकेट की हाईलाइट्स देखते थे वह अब लाइव मैच का आनंद उठा सकेंगे! लेकिन मजे की बात ये है की क्रिकेट अब पहले जैसा नहीं रहेगा और इसको लेकर कई कड़े नियम भी लागू किये जा चुके है!

कोरोना के माहौल में क्रिकेट के नए नियम

  • कोविड-19 टेस्ट

सबसे पहले तो जैसे ही वेस्ट इंडीज की टीम इंग्लैंड पहुंची, उसके सभी खिलाड़ियों को कोविड-19 टेस्ट के बाद 14 दिन के क्वारंटीन में भेज दिया गया है! 14 दिन के बाद अगर सब नॉर्मल रहा तो जुलाई से यह टेस्ट सीरीज शुरू हो जाएगी! इस सीरीज के शुरू होने की तिथि है 8 जुलाई और यह खेली जाएगी एजिस बाउल और ओल्ड ट्रेफर्ड में!

 

क्रिकेट के नियम इतने तगड़े कर दिए गए है की कहा जा रहा है की वेस्ट इंडीज का इंग्लैंड रवाना होने से पहले भी COVID-19 टेस्ट हुआ था जिसमे सभी खिलाडी नेगेटिव आये थे और उसके बाद ही पूरी टीम को भेजा गया और इंग्लैंड में उतर कर भी इनका COVID-19 टेस्ट किया गया!

  • नो सलाइवा

दूसरा नियम यह है की इंग्लैंड और वेस्टइंडीज़ दोनों ही टीम के खिलाडी अब बॉल को थूक लगाके चमका नहीं पाएंगे! इसका नियम का नाम दिया गया है नो सलाइवा! हालांकि सभी खिलाड़ियों की आदत हो गयी है की वह हर बॉल करने के बाद बॉल को थूक लगाके चमकाते है, लेकिन अब वह ऐसा नहीं कर पाएंगे! अब अगर मान लिया जाए की किसी टीम के खिलाडी ऐसा करते है तो इसे नियम उलंघन माना जाएगा, जिसके तहत ऐसा करने वाली टीम को दो बार वार्निंग दी जाएगी अगर फिर भी वह नहीं माने तो सामने वाली टीम को 5 रन अतिरिक्त दे दिए जाएंगे!

  • वही का अंपायर

पहले अंपायर को दूसरे देशो से बुलाया जाता था और कुछ गिने चुने अंपायर को ही काम में लाया जाता था! लेकिन अब घरेलु अंपायर को ही मैच में अंपायरिंग करने का मौका दिया जाएगा, जिससे बहार से आने वाले अंपायर से कोरोना का खतरा न हो सके!

ऐसा माहौल बनाया जा रहा है जिससे सभी के लिए एक सुरक्षित वातावरण त्यार किया जा सके और सभी को मैच खेलते हुए किसी प्रकार का डर न लगे! कोरोना महामारी के फैलने के बाद यह पहला मौका होगा जब मैच शुरू किया जाना है! सभी की नज़र इस मैच पर होगी क्योंकी सब देखना चाहते है की कोरोना के बाद किन नियमो के साथ क्रिकेट खेला जाएगा!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *